राष्ट्रीय इस्पात निगम के विशाखापट्टनम कारखाने से महाराष्ट्र के लिए निकली आक्सजीन एक्सप्रेस


सरकारी क्षेत्र के उपक्रम राष्ट्रीय इस्पात निगम लिमिटेड (आरआईएनएल) ने गुरुवार को कहा कि उसके विशाखापट्टनम कारखाने से चिकित्सकीय उपयोग लायक 100 टन आक्सीजन महाराष्ट्र के लिए निकल चुकी है। कंपनी ने ट्वीटर पर कहा, आरआईएनएल के विशाखापत्तनम कारखाने से पहली अक्सीजन एक्सप्रेस महाराष्ट्र के लिए छूट चुकी है। इसमें 100 टन तरल चिकित्सकीय आक्सीजन लदा है जो वहां कोविड19 के मरीजों की जरूरत के लिए है।

आरआईएनएल अब तक हर रोज 100 टन तरल आक्सीजन आंध्र प्रदेश और अन्य पड़ोसी राज्यों को भेज रहा था। एक सप्ताह में कंपनी ने उपचार के काम के लिए करीब 800 टन आक्सीजन की आपूर्ति की है। कंपनी के एक प्रवक्ता ने कहा , ‘हम मांग आने पर प्रतिदिन 100 से 150 टन आक्सीजन की आपूर्ति कर सकते हैं।

दूसरी ओर महाराष्ट्र में कोविड-19 मामलों में वृद्धि और चिकित्सीय ऑक्सीजन की गंभीर कमी के बीच राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बृहस्पतिवार को कहा कि अगर जीवनरक्षक गैस की आवश्यक आपूर्ति में मदद मिलती है तो राज्य सरकार केंद्र के पैर छूने को भी तैयार है। उन्होंने पत्रकारों से कहा, राज्य सरकार लोगों की जान बचाने के लिए सब कुछ करने को तैयार है। हम काफी विनम्रता से अनुरोध कर रहे हैं… यहां तक ​​कि ऑक्सीजन की आवश्यक मात्रा के लिए केंद्र के पैर छूने को भी तैयार हैं।” 





Source link

Related posts

Leave a Comment