कैसे काबू में आए कोरोना की दूसरी लहर? मुख्यमंत्रियों समेत कइयों के साथ पीएम मोदी की कल ताबड़तोड़ बैठकें


कोरोना वायरस की दूसरी लहर में रिकॉर्डतोड़ मामले सामने आने की वजह से देश में हाहाकार मचा हुआ है। उत्तर प्रदेश, दिल्ली, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र समेत कई ऐसे राज्य हैं, जहां रोजाना बड़ी संख्या में मामले सामने आ रहे हैं। कई अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी के चलते मरीजों की जान जोखिम में आ गई है। इस बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कई बैठकें करने का फैसला लिया है। पीएम मोदी इन बैठकों की वजह से अपना बंगाल का कल का दौरा भी रद्द करने का ऐलान कर चुके हैं। बंगाल में शुक्रवार को पीएम मोदी को चुनावी रैलियों को संबोधित करना था। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल कोरोना वायरस के हालात पर इंटरनल मीटिंग करेंगे। यह मीटिंग सुबह 9 बजे शुरू होगी। इसके बाद वे उन राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बात करेंगे, जहां पर कोरोना के काफी अधिक संख्या में नए मामले सामने आ रहे हैं। मुख्यमंत्रियों के साथ पीएम मोदी की यह बैठक 10 बजे होगी। इसके बाद मोदी दोपहर 12:30 बजे देश के प्रमुख ऑक्सीजन निर्माताओं से बात वर्चुअल बैठक करेंगे, जिसमें ऑक्सीजन की हो रही कमी को लेकर चर्चा की जाएगी।

मालूम हो कि देश में गुरुवार को कोविड-19 के अब तक के सर्वाधिक 3.14 लाख से ज्यादा मामले आने के साथ ही संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,59,30,965 हो गई है। दुनिया के किसी भी देश में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण का यह सर्वाधिक आंकड़ा है। पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 3,14,835 मामले आए जबकि 2104 और मरीजों की मौत हो जाने से अब तक इस महामारी की वजह से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 1,84,657 हो गई है।

वहीं, प्रधानमंत्री मोदी ने ऑक्सीजन की उपलब्धता और इसकी आपूर्ति को लेकर गुरुवार को एक उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक की है और शीर्ष अधिकारियों से ऑक्सीजन का उत्पादन बढ़ाने, उसके वितरण की गति तेज करने और अस्‍पतालों में उसके उपयोग के नए तरीकों का पता लगाने की जरूरत पर बल देने को कहा। इस दौरान, प्रधानमंत्री ने राज्‍यों से ऑक्सीजन की जमाखोरी करने वालों के खि‍लाफ कड़ी कार्रवाई करने को कहा और उन्हें निर्बाध और बगैर किसी परेशानी के ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए।





Source link

Related posts

Leave a Comment